सरसों की फसल को लेकर इस राज्य सरकार ने जारी की एडवाइजरी, अच्छी उपज के लिए करे ये जरुरी काम

0
sarson ki kheti mai rogo se bachav
सरसों की अच्छी उपज के लिए ये काम जरुरी

सरसों की अच्छी उपज के लिए ये काम जरुरी 

सरसों का रबी तिलहनी फसलों का प्रमुख स्थान है. जिसकी खेती कर देश के किसान भाई हर वर्ष शुध्द तेल प्राप्त करने के साथ-साथ अच्छा मुनाफा भी कमाते है. किसानों द्वारा इस साल भी सरसों की बुवाई लगभग पूरी कर ली गई है. और अच्छे उत्पादन को लेकर आशान्वित है.

लेकिन हरियाणा राज्य की सरकार द्वारा सरसों की फसल को लेकर किसानों को एक एडवाइजरी जारी की गई है. कि किसान भाई सरसों की फसल की अच्छी उपज पाने के लिए अपनी खड़ी फसल को परजीवी खरपतवारों और कीटों के हमले से बचाना होगा. इसलिए किसान भाई राज्य सरकार की बात मानकर अपनी सरसों की फसल को बचा सकते है.

अच्छी उपज के लिए किसान भाई ये काम

खेत को अच्छी तरह तैयार कर किसानों द्वारा सरसों की फसलों की बुवाई की जा चुकी है. अब किसान भाई इसकी अच्छी उपज के लिए पहली सिंचाई फूल निकलते समय करे, वही इसकी दूसरी सिंचाई जब पौधों में फलियाँ बनने लगे तभी करनी चाहिए. किसान भाई यहं इस बात का ध्यान जरुर रखे यदि पौधों में फूल बनते समय खेत में नमी कम हो तो एक अतरिक्त सिंचाई जरुर कर ले.

यह भी पढ़े : DRONE DIDI YOJANA IN HINDI : एग्री ड्रोन उड़ाकर दीदी बनेगी लखपति, सरकार देगी 15000 ड्रोन आइये जाने पूरी जानकरी ?

सिंचाई के साथ-साथ इसकी अच्छी उपज के लिए गुड़ाइयां की महत्वपूर्ण भूमिका रहती है. गुड़ाइयां से पौधे की जड़ों को पर्याप्त मात्रा में ऑक्सीजन मिलने साथ-साथ खरपतवार प्रबन्धन में भी महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है.  इसकी फसल को दो गुड़ाइयों की आवश्यकता होती है. पहली बुवाई के 21 दिन बाद एवं दूसरी 35 दिन बाद की जानी आवश्यक होती है.

अच्छी उपज के लिए परजीवी खरपतवार नियंत्रण जरुरी 

सरसों या राय की खेती में अच्छी उपज के लिए परजीवी खरपतवार नियंत्रण जरुरी होता है. खासकर मरगोजा (ओरोबैकी) परजीवी खरपतवार को नियनत्रण जरुर करे. इस खरपतवार के नियंत्रण के लिए किसान भाई राउंडअप/ग्लाईसेल (ग्लाईफ़ोसेट 41% एस एल) की 25 मिली मात्रा प्रति एकड़ बिजाई के 25-30 दिन बाद व 50 मिली मात्रा प्रति एकड़ बिजाई के 50 दिन बाद 150 लीटर पानी में मिलाकर स्प्रे करनी चाहिए.

यह भी पढ़े : Black bengal goat in Hindi : पशुपालक किसानों के लिए बकरी की ये नस्ल देगी लाखों का मुनाफा,आइये जाने इसकी पूरी जानकारी

किसान भाई यह इस बात का ध्यान रखे अपने स्प्रे मशीन का स्प्रे फ्लैट फ़ैन नोजल ही रखे. साथ ही अधिक स्प्रे से बचना चाहिए. इसक अलावा स्प्रे करते समय भूमि में पर्याप्त मात्रा में नमी जरुर होनी चाहिए.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here