DRONE DIDI YOJANA IN HINDI : एग्री ड्रोन उड़ाकर दीदी बनेगी लखपति, सरकार देगी 15000 ड्रोन आइये जाने पूरी जानकरी ?

0
DRONE DIDI YOJANA IN HINDI
एग्री ड्रोन उड़ाकर महिलाएं बनेगी लखपति

DRONE DIDI YOJANA IN HINDI | एग्री ड्रोन उड़ाकर महिलाएं बनेगी लखपति

DRONE DIDI YOJANA IN HINDI : देश में खेती किसानी के कार्यों में पुरुषों के साथ-साथ महिलाओं की भी भूमिका बढती जा रही है. जिससे वह सशक्त बन रही है. और उनका परिवार आर्थिक रूप से मजबूत बन रहा है. ऐसे में सरकार द्वारा लगातार यह प्रयास किया जाता रहा है कि खेती-किसानी के कार्यों में महिलाओं की हिस्सेदारी बढे,इसको लेकर वह कई तरह की योजनायें समय-समय पर लाती रहती है. इसी कड़ी सरकार द्वारा दीदी लखपति योज़ना की शुरुवात की गयी थी. लेकिन अब केन्द्र की सरकार द्वारा महिलाओं को आर्थिक रूप से सशक्त बनाने के लिए ड्रोन दीदी योजना की शुरुवात की गयी है.

सरकार द्वारा महिला स्व सहायता समूह (एसएचजी) से जुड़ी दीदी को लखपति बनाने की योजना पर अमल किया जाना शुरू हो गया है. जिसकी गत 15 अगस्त को प्रधानमन्त्री द्वारा लखपति दीदी योजना घोषणा की गयी थी. जिसके तहत सरकार ने महिला स्वयं सहायता समूहों (Women’s Self Help Group) को ड्रोन देने की मंजूरी दी है. खेतों में खाद और कीटनाशक छिड़काव के लिए किराये पर ड्रोन (Agri Drones) दिए जाएंगे.

महिलाओं को दिए जायेगें 1500 ड्रोन

ड्रोन दीदी योजना की शुरुवात वीडियो कांफ्रेंसिंग के जरिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा गत 30 नवम्बर को की गयी है. इस कांफ्रेंसिंग बैठक के दौरान प्रधानमंत्री ने विकास भारत संकल्प यात्रा के प्रतिभागियों से भी बातचीत की गयी.

यह भी पढ़े : Black bengal goat in Hindi : पशुपालक किसानों के लिए बकरी की ये नस्ल देगी लाखों का मुनाफा,आइये जाने इसकी पूरी जानकारी

लखपति दीदी योजना के तहत महिला एसएचजी को आगामी दो वित्त वर्षों 2024-25 और 2025-26 के दौरान 4,500 एग्री ड्रोन उपलब्ध कराये जायेगें. वही चालू वर्ष 2023-24 के मार्च तक फर्टिलाइजर कंपनियां महिला एसएचजी को 500 ड्रोन उपलब्ध कराये जायेगें. इन एग्री ड्रोन का उपयोग कृषि कार्य खासतौर पर कीटनाशक व खाद के छिड़काव के लिए किया जाएगा.

 

View this post on Instagram

 

A post shared by Agriculture INDIA (@agrigoi)

ड्रोन उड़ाने की ट्रेनिंग के बाद महिलाओं को मिलेगे हर महीने इतने रुपये

जो भी महिलाएं एसएचजी से जुडी हुई है एवं 10वीं पास होने के साथ 18 वर्ष से अधिक आयु वाली महिलाओं को ड्रोन उड़ाने के लिए चयन किया जाएगा. इसके लिए उन्हें 15 दिन की ट्रेनिंग भी दी जाएगी. ट्रेनिंग होने के उपरांत पायलट महिला को 15000 रुपये महीना दिया जायेगा. वही सहायता के लिए एक को पाइलट होगी, जिसे हर महीने 10,000 रुपये दिए जायगें. इसके अलावा कुछ महिलों को ड्रोन की मरम्मत की ट्रेनिंग दी जाएगी. जिन्हें हर महीने 5,000 रूपये दिए जायेगें. ड्रोन को उड़ाने से लेकर इसकी मरम्मत तक की ट्रेनिंग की जिम्मेदारी ड्रोन (Drone) सप्लाई करने वाली कंपनी की होगी.

यह भी पढ़े : Pm Kisan Yojana 16th Installment Update : 15वीं क़िस्त मिलने के बाद अब इस तारीख तक किसानों को मिल जाएगी पीएम किसान योजना की 16वीं क़िस्त

सरकार देगी 80 प्रतिशत तक का अनुदान

एक एग्री ड्रोन खरीदने में लगभग 10 लाख रूपये खर्च करने पड़ते है. जिसमें योजना के तहत सरकार 8 लाख रुपये मुहैया कराएगी. यानि की सरकार द्वारा 80 प्रतिशत तक अनुदान का प्राविधान है. वही बाकी का 2 लाख रुपये  क्लस्टर लेवल फेडरेशन (CLF) नेशनल एग्रीकल्चर इंफ्रा फाइनेंसिंग फैसिलिटी से लोन लेगा. इसके अलावा सरकार की तरफ से इस लोन की ब्याज दर में 3% की छूट भी दी जाएगी.

खेती के लिए कितना फायदेमंद है ड्रोन का उपयोग

फसलों में अचानक से आई बीमारियों के कारण किसानों को स्प्रे करना कठिन हो जाता है. लेकिन ड्रोन तकनीक आ जाने के कारण यह काफी आसान हो गया है. अब कम समय में ही काफी बड़े एरिया पर छिडकाव किया जा सकता है. इससे दवा का उपयोग भी सीमित मात्रा में होता है. इस ड्रोन तकनीकी से किसान के समय और दवा दोनों की बचत होती है. जिससे किसान को फसलों पर लगाने वाली लागत में भी कमी आती है. जिससे उसकी आय बढती है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here