चना, मसूर एवं सरसों की उपज को समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए अब किसान भाई 10 मार्च तक करा सकेगें ऑनलाइन या ऑफलाइन पंजीयन 

0
production registration
चना, मसूर एवं सरसों की उपज का पंजीयन 

समर्थन मूल्य पर बेचने के लिए चना, मसूर एवं सरसों की उपज का पंजीयन 

देश के किसान की रबी फसलों की उपज तैयार होने में कम ही समय बचा है, ऐसे में कई राज्यों में किसानों की पंजीयन प्रक्रिया की शुरुवात कर दी गयी है. जिससे किसान भाई अपनी उपज को सही समय बेच का अच्छा मुनाफा प्राप्त कर सके. इसलिए मध्य प्रदेश राज्य सरकार द्वारा पहले चना, मसूर और सरसों के उपज की समर्थन मूय पर खरीदी के लिए पंजीयन तारीख 25 फरवरी रखी गयी थी. जिसमें कुछ किसान भाई अपना पंजीयन कराने को छूट गए थे. इसको देखते हुए राज्य की सरकार द्वारा किसानों के पंजीयन की तारीख को बढाकर 10 मार्च तक कर दी गयी है. जिससे छोटे हुए किसान भाई अपना पंजीयन करा सके.

किसान पंजीयन के बारे में जानकारी देते हुए राज्य के किसान-कल्याण तथा कृषि विकास मंत्री श्री कमल पटेल ने कहा है कि सरकार ने किसान हित में निर्णय लेते हुए चना, मसूर, सरसों के पंजीयन की तारीख को 15 दिन के लिए बढ़ाया गया है. इसके लिए किसान भाई अब चना, मसूर, सरसों की अपनी उपज को पंजीयन पोर्टल पर 10 मार्च तक करा सकते हैं. पहले यह पंजीयन की तारीख 25 फरवरी तक रखी गयी थी.

यह भी पढ़े : गेहूं की खेती में चूर्णिल आसिता रोग से किसान भाई कैसे करे अपनी फसलों की सुरक्षा, आइये जाने पूरी जानकारी 

किसान चना, मसूर और सरसों की उपज बेचने लिए यहाँ कराएं पंजीयन 

राज्य सरकार द्वारा किसानों की फसलों के पंजीयन के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन दोनों तरह की व्यवस्था की है. जिसमें किसान स्वयं मोबाइल द्वारा एमपी किसान एप पर, ग्राम पंचायत कार्यालय में स्थापित सुविधा केंद्र पर, जनपद पंचायत कार्यालय में स्थापित सुविधा केंद्र पर, तहसील कार्यालयों में स्थापित सुविधा केंद्र पर, पूर्व वर्षों की भाँति सहकारी समिति/ विपणन संस्था द्वारा संचालित पंजीकृत केंद्र पर निःशुल्क पंजीयन करा सकते हैं.

सरकार द्वारा चना, मसूर और सरसों के लिए घोषित समर्थन मूल्य 

पूरे देश के लिए केंद्र सरकार द्वारा पहले ही रबी फसलों के न्यूनतम समर्थन मूल्य निर्धारित किया जा चूका है. जिसके तहत विभिन्न सरकारी एजेंसियों द्वारा खरीदी केन्द्रों पर खरीदी की जाएगी. केंद्र सरकार द्वारा इस साल  गेहूं का न्यूनतम समर्थन मूल्य 2125 रुपए प्रति क्विंटल, चना के लिए 5335 रुपए प्रति क्विंटल, मसूर के लिए 6000 रुपए प्रति क्विंटल एवं सरसों के लिए 5450 रुपए प्रति क्विंटल रखा गया है. इस तय मूय पर ही किसानों की उपज खरीदी जाएगी. 

यह भी पढ़े : किसान भाई इस बार रहे सचेत क्योकि बढ़ते हुए तापमान के कारण हो सकता है फसलों में भारी नुकासन, इस तरह करे बचाव

इन आवश्यक कागजातों की पंजीयन में होगी जरुरत 

पंजीयन के लिए किसान भाइयों को समिति स्तर पर आधार नंबर, बैंक खाता नंबर, मोबाइल नंबर की जानकारी उपलब्ध करवानई होगी. इसके अलावा किसान भाइयों को पंजीयन के समय कृषक का नाम, समग्र आईडी नम्बर, ऋण पुस्तिका, आधार नम्बर, बैंक खाता नम्बर, बैंक का आईएफएससी कोड, मोबाइल नम्बर की सही जानकारी देनी होगी. जिससे बाद में किसी प्रकार की किसान भाइयों को असुविधा न उठानी पड़े. वनाधिकार पट्टाधारी एवं सिकमी किसानों के पास पंजीयन के लिए वनपट्टा तथा सिकमी अनुबंध की प्रति होनी चाहिए.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here