अब इस राज्य के किसान पा सकेंगे रबी की फसल के बीज होम डिलीवरी के माध्यम से, जानिए पूरी खबर

0
32
Crop Seeds Home Delivery
रबी की फसल के बीज होम डिलीवरी

रबी की फसल के बीज होम डिलीवरी के माध्यम से

देश में रबी फसलों की खेती का समय हो गया है.कुछ राज्यों के किसानों की बारिश की वजह से फसलों की बुवाई की तेयारी में देरी आई है.इसे देखते हुए राज्यों की सरकारों द्वारा किसानों को मदद पहुचने के हर संभव प्रयास किये जा रहे है.

इसी कड़ी में बिहार की राज्य सरकार द्वारा किसानों की मदद करने के लिए तेयारी शुरू कर दी है. रबी फसलों की बुवाई के लिए किसानों के सामने सबसे बड़ी समस्या खेती के लिए बीजों की होती है. लेकिन अब इस समस्या को दूर करने के लिए सरकार द्वारा बीजों को होम डिलेवरी की सुविधा की शुरुवात करने जा रही है.

यह भी पढ़े : किसानों के लिए बड़ी खबर अब किसानों को ड्रोन खरीदने के लिए सरकार द्वारा मिलेगा 100% तक अनुदान 

रबी फसलों के बीज के लिए ऑनलाइन आवेदन

बिहार राज्य के बेतिया जिले में इस ऑनलाइन बीज की खरीदारी की योजना की शुरुआत हो चुकी है.यहां के कृषि पदाधिकारी के अनुसार रबी फसलों के बीज के लिए अब किसानों को इधर उधर कहीं भी नहीं भटकना पड़ेगा. क्योंकि होम डिलीवरी के जरिए. अब किसानों के घर तक बीच पहुंचाया जाएगा. जिले के कृषि विभाग के अनुसार रबी फसलों के बीज के लिए ऑनलाइन आवेदन की प्रक्रिया शुरू की जा चुकी है. किसानों को ऑनलाइन बीजों में रबी की फसल के लिए मसूर गेहूं के बीज को खरीदना हो, तो प्रेस विभाग की वेबसाइट पर जाकर ऑनलाइन आवेदन करना होगा. और बीज उन्हें होम डिलीवरी के जरिए घर भेज दिया जाएगा.

इस तारीख तक डीजल के लिए भी अनुदान   

कृषि विभाग द्वारा होम डिलीवरी के जरिए बीज उनके घर तक पहुंचाने का प्रावधान शुरू हो चुका है. विभाग की एक बैठक में सभी समन्वयकों को डीजल अनुदान के लिए आने वाले आवेदनों का भौतिक सत्यापन करने का भी निर्देश दिया गया है. साथ ही इस बैठक में यह भी बताया गया कि 30 अक्टूबर तक डीजल अनुदान के लिए किसान भाई अपने फार्म को भर सकते हैं. इसके अलावा पीएम किसान निधि से जुड़े हुए आवेदनों का भौतिक सत्यापन कर रिपोर्ट देने का निर्देश बीएओ द्वारा दिया गया है.

यह भी पढ़े : गाय और भैंस की गर्भावस्था के दौरान उचित देखभाल कैसे करें ? 

इन योजना का लाभ केवल इन किसानों

इन योजनाओं का लाभ केवल पंजीकृत किसानों को ही मिल पाएगा. इसलिए किसानों को सबसे पहले अपना पंजीकरण कराना होगा. जिन किसानों का पंजीकरण अभी तक नहीं हुआ है. वह इन योजनाओं का लाभ नहीं ले पाएंगे. इसलिए किसान भाई सबसे पहले अपना पंजीकरण कराएं. उसके बाद किसी भी योजना के लिए ऑनलाइन आवेदन करें.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here