दोहरी इनकम के लिए किसान भाई गन्ने की खेती के साथ करे इस फसल की खेती

0
potato farming
गन्ने की खेती के साथ करे इस फसल की खेती

गन्ने के साथ उगाये किसान भाई इसकी फसल, खेती में होगा दूना फायदा

देश के अधिकतर किसान भाई गन्ने की खेती करते है. जिससे उन्हें अच्छी आय प्राप्त होती है. लेकिन फिर भी आज की महगाई को देखते हुए यह कम लगाती है. वही अभी भी कई राज्यों में गन्ने का समर्थन मूल्य काफी कम है. जिसके कारण किसानों को गन्ने का उचित मूल्य नही मिलता है. इसके अलावा गन्ने की खेती में अधिक लागत भी अधिक आती है. जिससे किसान अपनी आमदनी को लेकर चिंतित रहते है.

तो आइये आज के इस लेख में किसान भाइयों को यह जानकारी देने वाले है,कि वह अपनी आमदनी को बढ़ने में गन्ने की खेती के साथ इस फसल की खेती भी कर सकते है. देखा जय तो गन्ना एक लम्बी अवधि की फसल है. जिसकी खेती में पूरा साल लग जाता है. साथ ही इसकी खेती में गन्ने की कतारों के बीच काफी जगह भी बच जाता है. ऐसे में किसान भाई इसकी फसल में कम अवधि वाली फसल उगाकर दूना मुनाफा कमा सकते है.

गन्ने के साथ उगाये आलू मुनाफा होगा दूना

किसान भाई गन्ने के खेती (Sugarcane Cultivation) के साथ कई फसलों की खेती कर सकते है. लेकिन गन्ने की खेती के साथ आलू की खेती कर अच्छा मुनाफा कमा सकते है. क्योकि आलू की पूरे साल रहती है. जिससे इसका बाजार भाव भी अच्छा रहता है. वही गन्ने की खेती में आलू की बुवाई भी आसानी से हो जाती है. क्योकि गन्ने की कतारों के बीच काफी जगह रहती है. इस तरह की खेती से किसानों को दोहरा मुनाफा मिल जाता है.

यह भी पढ़े : कागजी नींबू की खेती (Lemon Cultivation) से किसान भाई बन सकते है मालामाल, एक बार पौधा लागने से 12 साल तक लगातार देता है उपज

इस सहफसली खेती किसानों को कितना लाभ

गन्ने की खेती में आलू की खेती (potato farming) सहफसली के रूप में की जाती है. जिससे किसानों को काफी अच्छा मुनाफा प्राप्त होता है. क्योकि एक फसल की लागत में दो फसलों की उपज किसानों को प्राप्त होती है. इसमें सिंचाई, खाद, उर्वरक आदि के खर्चे एक फसल की उपज से निकल आता है.

बता दे, कि एक अनुमान के अनुसार अगर गन्ने की खेती वैज्ञानिक विधि अपनाकर की जाय तो गन्ने के एक साल की फसल से लगभग 35 से 40 टन तक गन्ने की उपज प्राप्त हो जाती है. वही शरद कालीन गन्ने की खेती के साथ सहफसली फसलों की बुवाई कर किसान भाई तीन से चार महीने में इन सहफसली फसलों से 40 से 50 रुपये की उअपाज प्राप्त कर सकते है. जिससे गन्ने की फसल के सारे खर्च निकल जायेगें. और गन्ने की उपज से प्राप्त आमदनी शुध्द रूप से पूरा मुनाफा मिलेगा.

देश के ये किसान गन्ने और आलू की सहफसली से ले रहे है दोहरा लाभ

देश के कई किसान गन्ने की खेती के साथ आलू की खेती कर दोहरा लाभ कमा रहे है. मीडिया में आई रिपोट्स के अनुसार बिहार के सिवान जिले के विष्णुपुरा गांव के रहने वाले गोरख सिंह गन्ने साथ आलू की खेती कर रहे है. जिसमें उन्होंने पांच कट्‌ठे में एक साथ गन्ना और आलू की फसल बोई है. इसके लिए इन्हें इसकी खेती पर खर्च 6 से 7 हजार रुपए खर्च करने पड़े. गोरख सिंह पशुपालन विभाग में लिपिक के पद पर कार्यरत है.

यह भी पढ़े : मिलेट्स से जुड़ा कोई काम शुरू करने के लिए सरकार कर रही है मदद,इस तरह मिलेगा अनुदान का लाभ

वही देश के अधिकतर किसान गन्ने की खेती के साथ सरसों, मक्का, मटर, पालक, मूली की खेती की जा सकती है. लेकिन गोरख सिंह ने गन्ने की खेती के साथ आलू की खेती की, जिसके उनको अच्छे परिणाम प्राप्त हुए. उन्हें एक खर्चे में दो फसलों के लाभ मिल गए.

गन्ना और आलू की खेती एक साथ कैसे करे ?

आलू और गन्ने की खेती एक साथ करने लिए लिए किसान भाई गन्ने की कतारों के बीच 2 से 3 फुट की दूरी रखनी चाहिए. इन कतारों की बीच बची हुई जगह में आलू को उगाया जाता है. गन्ने के बीच में आलू की खेती करने से दो फसलों को लाभ पहुचता है. जिससे दोनों फसलों की अच्छे उत्पादन के साथ बढया मुनाफा भी प्राप्त होता है.

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here