किसान भाई अपनी गेहूं की फसल को चूहों से कैसे बचाएं ? जिससे फसल से अधिक उपज ले सके

0
29
khet me choohon ki rokatham
गेहूं की खेती में चूहों का नियंत्रण

गेहूं की फसल की सुरक्षा चूहों से कैसे करे ?

देश की अधिकतर किसान रबी की फसलों के इस मौसम में गेहूं की खेती करते हैं.लेकिन उनकी फसलों को नुकसान पहुंचाने में रोग व कीट की प्रमुख भूमिका होती है. कभी-कभी इनका प्रकोप अधिक होने से किसानों को उपज में नुकसान उठाना पड़ता है. जिससे उन्हें लाभ के बजाय हानि होती है.इन कीटों  व रोगों के अलावा किसानों को सबसे अधिक नुकसान एक चीज और पहुंचाती है वह खेतों में रहने वाला चूहा.

खेतों में रहने वाला यह चूहा किसानों की उपज का एक बड़ा भाग खाकर किसानों को सबसे अधिक नुकसान पहुंचाता है. यदि किसी खेत में अधिक चूहे लग जाएं. तो किसानों को फसल बचाने मुश्किल हो जाती है. गेहूं की फसल को चूहों की हानि से बचाने के लिए आप कुछ उपाय कर सकते हैं. जिससे आप शुरू से होने वाली हानि को बचा सकते हैं. तो आइए इस लेख के जरिए आपको बताते हैं आप अपने गेहूं के खेत  से चूहों को कैसे बचाएं पूरी जानकारी-

यह भी पढ़े : किसान भाई का ट्रैक्टर पा सकेंगे आधी कीमत पर, देश का यह राज्य दे रहा है 50% तक का अनुदान

गेहूं की खेती में चूहों का नियंत्रण

किसान भाई गेहूं की फसल से चूहों का नियंत्रण निम्न प्रकार से कर सकते हैं-

  • यांत्रिक तरीका अपनाकर-  चूहों से छुटकारा आने के लिए किसान भाई अपनी फसलों की कटाई के बाद खेतों को पानी में लगाने के समय गड्ढे में से निकल रहे चूहों को डंडों से मार देना चाहिए. इसके अलावा अपने खेत में पिंजड़े के द्वारा भी चूहों को पकड़ सकते हैं. इसके लिए किसान भाई अपने खेत में प्रति एकड़ 16 पिंजड़े के हिसाब से चूहों के आने जाने वाले रास्तों और प्रभावित स्थानों पर रख कर दो से 3 दिन निगरानी करें.
  •  रवायती तरीका अपनाकर- किसान भाई अपने खेतों के आसपास पक्की, ऊंची और चौड़ी मेड़ों के होने से चूहे ज्यादा गड्ढे बना सकते हैं. इसलिए आप अपने खेतों की मेड़ों की ऊंचाई और चौड़ाई कम कर देनी चाहिए.
  •  चूहे मार दवाइयों का उपयोग अपनाकर –  खेत से चूहों के नियंत्रण के लिए इनके मनपसंद आहार में जैसे गेहूं, ज्वार और बाजरा आदि दानों में जहरीला रासायनिक पदार्थ मिलाकर रखने से चूहों का नियंत्रण किया जा सकता है. इसके लिए आप निम्न रासायनिक पदार्थों का उपयोग कर सकते हैं.

2% जिंक फास्फाइड वाला आहार: एक किलो दानों के चूरे में 20 ग्राम खाने वाला तेल, 20 ग्राम पीसी हुई खांड और 20 ग्राम और जिंक दवाई का पाउडर किसी बर्तन में अच्छी तरह मिलाकर रख दें.

0.005% ब्रोमाडाइलोन वाला आहार: एक किलो दानों के चूरे में 20 ग्राम खाने वाला तेल, 20 ग्राम पीसी हुई खांड और 20 ग्राम ब्रोमाडाइलोन दवाई का पाउडर किसी बर्तन में अच्छी तरह मिलाकर रख दें.

यह भी पढ़े : पहले आओ पहले पाओ की तर्ज पर किसानों को मिलेंगे अनुदान पर सोलर पंप,इस राज्य के किसान होंगे लाभान्वित

  • रंग का इस्तेमाल करके – चूहेदानी में एक चूहा बंद करके ऊपर से कई रंग का पेंट डाल दें, चूहा पूरी तरह से रंग-बिरंगा हो जाए, उस रंगबिरंगे चूहे को खेत में छोड़ने से बाकी के चूहे अपने आप भाग जाएंगे.
  • प्राकृतिक तरीका अपनाकर – चूहे हमेशा के लिए समाप्त करने हैं तो अपने खेतों में पीपल, आम, बरगद, पाकड़, जामुन, नीम जैसे कई वृक्ष लगाएं, उसमे उल्लू के निवास से चूहे पूरी तरह से समाप्त हो जाते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here