Grass feeds animal : पशुपालक किसान अपने पशुओं को खिलाये यह घास, पशु देगें ज्यादा दूध

0
404
Grass feeds animal
पशुओं को खिलाने वाली घासे, जिससे पशु देगें ज्यादा दूध 

पशुओं को खिलाने वाली घासे, जिससे पशु देगें ज्यादा दूध 

देश के किसान बड़े पैमाने पर पशुपालन करते है. जिसको समय-समय पर सरकार द्वारा भी प्रोत्साहित किया जाता है. जिसके कारण ग्रामीण क्षेत्रों यह किसानों के लिए एक बड़ा व्यवसाय बन गया है. इस व्यवसाय में किसान भाई पशुओं को पालकर उनसे दूध निकाल कर लाखों रुपये का लाभ कमा रहे है.

लेकिन ज्यदातर पशुपालक इस बात से परेशान रहते है. कि उनके पशु की दूध उत्पादन की क्षमता कैसे बढे. जिससे वह अधिक मुनाफा कमा सके. इसके लिए वह काफी जतन करते है. इसलिए गाँव किसान आज कुछ ऐसी घासों की खेती की जानकारी आप सभी पशुपालक किसानों को देगा. इन घासों को अपने पशुओं की खिलाकर दूध उत्पादन क्षमता बढ़ा सकते है.

यह भी पढ़े : Sagwan Farming in India | इस पेड़ों को लगाने से किसान भाई कमा सकते है करोड़, एक एकड़ में लगाये केवल 120 पेड़

बरसीम घास की खेती 

बरसीम घास पशुओं के लिए सबसे ज्यादा लाभकारी होती है. इसको पशु खाने में काफी पसंद करते है. इसमें कैल्सियम और फास्फोरस काफी मात्रा में पाया जाता है. इसके खाने से पशुओं की पाचन क्रिया भी बढ़िया रहती है. जिसके कारन पशु ज्यादा दूध देने लगते है.

रिजका घास की खेती 

किसान भाई रिजका की खेती अक्टूबर से नवम्बर महीने के बीच कर सकते है. इसकी खेती में बरसीम की तुलना में कम सिंचाई करनी पड़ती है. जिससे इसकी खेती पर लागत भी कम आती है. अगर इस घास को कम दूध देने वाले पशु को खिलाई जाय तो उस पशु की दूध देने की क्षमता बढ़ जाती है. इसलिए इस घास को दूध उत्पादन के लिए उत्तम माना गया है.

यह भी पढ़े : Neelgiri Farming in India : नीलगिरी की खेती में है करोड़ों का फायदा, किसान भाई देश में कहीं भी लगा सकते है इसके पौधे

नेपियर घास की खेती 

नेपियर को हाथी घास भी कहा जाता है. इसकी लम्बाई काफी होती है. यह पशुओं के लिए काफी पौष्टिक होती है. इसकी सबसे अच्छी बात यह है कि यह केवल 50 दिनों में तैयार हो जाती है. पशुओं द्वारा इसका सेवन करने से उनमें दूध देने की क्षमता बढ़ जाती है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here