इस राज्य के ज्यादा से ज्यादा युवाओं को माली प्रशिक्षण देने की, की जाएगी व्यवस्था

0
madhya pradesh maali prashikshan karyakrama
राज्य के युवाओं को माली प्रशिक्षण 

राज्य के युवाओं को माली प्रशिक्षण 

देश के किसानों एवं युवाओं की ये बढ़ाने के लिए सरकार द्वारा लगातार प्रयास किया जा रहा है। इसके लिए विभिन्न विभागों द्वारा नई-नई योजनाएं चलाई जा रही है। इसी तरह बाग़वानी विभाग द्वारा ग्रामीण क्षेत्रों में रोजगार उपलब्ध कराने के लिए कई योजनाओं का क्रियान्वयन भी किया जा रहा है। इसी कड़ी मे मध्य प्रदेश राज्य के द्यानिकी एवं खाद्य प्रसंस्करण राज्य मंत्री (स्वतंत्र प्रभार) श्री भारत सिंह कुशवाह ने विभागीय समीक्षा बैठक एक बैठक की गई। जिसमें उन्होंने शासन द्वारा चलाई जा रही कई महत्वपूर्ण योजनाओं के बारे मे बताते हुए अधिकारियों को निर्देशित किया गया।

इस समीक्षा बैठक के मौके पर उन्होंने बताया कि ग्वालियर में हाईटेक नर्सरी के साथ ऐरोपोनिक लैब की स्थापना की जाएगी। उन्होंने इस बैठक मे इन दोनों कार्यों के निर्माण का कार्य जल्द शुरुवात करने के लिए अधिकारियों को निर्देश दिए। इसके अलावा उन्होंने राज्य सरकार द्वारा चलाए जा रहे माली प्रशिक्षण कार्यक्रम को लेकर भी अधिकारियों को दिशा-निर्देश दिया गया।

राज्य के इतने युवाओं को मिल चुका है माली प्रशिक्षण 

मध्य परेदश सरकार के मंत्री द्वारा कहा गए कि विभागीय कार्यक्रमों के क्रियान्वयन में तेजी लाई जाए। राज्य के 600 युवाओं को माली प्रशिक्षण कार्यक्रम के तहत प्रशिक्षण दिलवाया जा चुका है। इस मौके पर उन्होंने ने कहा कि ऐसी व्यवस्था की जाए जिससे अधिक से अधिक इच्छुक युवा माली प्रशिक्षण प्राप्त कर पाए। इस समय उद्यानिकी विभाग द्वारा पाँच प्रशिक्षण केन्द्र से माली प्रशिक्षण कार्यक्रम संचालित किया जा रहा है।

यह भी पढे : Coccidiosis in chickens : मुर्गियों की इस खतरनाक बीमारी से पोल्ट्री किसान कैसे बचाव करे

इसके अलावा उद्यान मंत्री कुशवाह द्वारा उद्यानिकी उत्पादों की पृथक मंडी की स्थापना के लिए भी शासन को प्रस्ताव भेजे जाने के निर्देश दिया गया। साथ ही इस बैठक मे उद्यानिकी से जुड़े हुए विभिन्न कार्यक्रमों की समीक्षा राज्य मंत्री द्वारा की गई। इस बैठक के मौके पर अपर मुख्य सचिव उद्यानिकी एवं खाद्य प्र–संस्करण श्री जे.एन. कंसोटिया, संचालक उद्यानिकी सुश्री निधि निवेदिता सहित अन्य अधिकारी भी उपस्थित रहे।

आखिर माली प्रशिक्षण योजना है क्या ? 

देश के मध्य प्रदेश की सरकार द्वारा राज्य के इच्छुक युवाओं को राष्ट्रीय कृषि विकास योजना के तहत माली का प्रशिक्षण दिलवाया जा रहा है। जिससे आने वाले वर्षों मे उद्यानिकी विभाग के लिए कुशल श्रमिक, मालियों की भर्ती में प्रशिक्षित एवं तकनीकी रूप से योग्य उम्मीदवार मिल पाए। इस योजना के तहत युवाओं को 200 घंटे (25 दिन) माली विषयक सर्टिफिकेट कोर्स का आयोजन कराया जा रहा है।

यह भी पढे : डीजल खरीद पर किसानों को अनुदान प्रदान किया जाएगा, आवेदन करें अभी

माली प्रशिक्षण के लिए पात्रता 

योजना का प्रशिक्षण प्राप्त करने के लिए सरकार द्वारा बेरोजगार युवाओं की आयु 18 से 40 वर्ष तक रखी गई है। वही इसके लिए आवेदक की शैक्षणिक योग्यता न्यूनतम 10वीं पास होनी अनिवार्य है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here