कृषि मंत्रालय ने जारी किए आँकड़े रबी फसलों की बुवाई का रकबा घटा, दालों का भी उत्पादन होगा कम

0
area under sowing of Rabi crops decreased
रबी फसलों की बुवाई का रकबा घटा

रबी फसलों की बुवाई का रकबा घटा, दाल वाली फसलें भी प्रभावित 

देश मे रबी फसलों का सीजन चल रहा है। ऐसे रबी सीजन 2024 की फसलों की बुवाई लगभग समाप्त हो चुकी है। वही पिछले साल के मुकाबले इस साल लगभग 16 लाख 51 हजार हेक्टेयर मे रबी फसलों की बुवाई नहीं हो सकी। इन फसलों मे दलहनी फसलों की बुवाई अधिक पिछड़ गई है।

रबी फसलों की बुवाई मे गिरावट की सबसे बड़ा कारण मौसम मे आए बदलाव को माना जा रहा है। आंकड़ों को देखा जाय तो इस बार रबी का सीजन पिछली के मुकाबले कमजोर रहने की संभावना है।

दिसम्बर तक इतनी हो सकी इतनी हुई बुवाई

देश के कृषि मंत्रालय के द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार 2023 दिसम्बर के अंतिम सप्ताह तक कुल 629.65 लाख हेक्टेयर मे ही रबी फसलों की बुवाई की गई है। जबकि दिसम्बर के अंतिम सप्ताह तक 646.16 लाख हेक्टेयर मे बुवाई हो चुकी है।

यह भी पढे : गुड़, काला जीरा, चावल समेत ओडिशा के 7 उत्पादों को मिला GI टैग का अहम दर्जा

देश मे अमूमन दिसम्बर के अंतिम सप्ताह तक रबी फसलों की बुवाई पूरी हो जाती है। यह मोटे तौर पर देशभर मे औसतन लगभग 648.41 लाख हेक्टेयर मे होती है। यानी चालू सीजन मे पिछले सीजन के मुकाबले 16.51 लाख बुवाई का रकबा घट है। अगर सामान्य क्षेत्रफल से इसकी तुलना करे तो चालू सीजन मे फसलों की बुवाई नहीं हो पाई है।

दलहनी फसलें हुई अधिक प्रभावित

कृषि मंत्रालय के द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के अनुसार चालू सीजन मे आरबीआई की दलहनी फसलों की बुवाई अच्छी खासी प्रभावित हुई है। देश मे दिसंबर अंत तक 142.49 लाख हेक्टेयर मे दलहनी फसलें रोपी गई है। जबकि पिछले साल रबी सीजन मे 153.22 लाख हेक्टेयर मे रोपी गई थी। यानि इस साल लगभग 10.72 लाख हेक्टेयर मे दलहन फसलें नहीं लागै जा सकी है।

दलहनी फसलों मे चने और मूंग की फसलें भी प्रभावित

रबी की दलहनी फसलों मे सबसे अधिक चने और मूंग की खेती प्रभावित हुई है। अगर पिछले साल की बात की जाए तो 105.22 लाख हेक्टेयर मे चना लगाया गया था, लेकिन इस साल केवल 97.05 लाख हेक्टेयर मे लगाया गया है। इसके अलावा मूंग का रकबा भी पिछले सीजन मे 2.93 लाख हेक्टेयर मे मूंग की बुवाई की गई गई थी,इस साल केवल 1.81 लाख हेक्टेयर मे ही मूंग की खेती की गई है।

यह भी पढे : आज से शुरू हुआ दाल खरीद पोर्टल, पैसा पहुंचेगा सीधे किसानों के खाते मे

गेहूं की बुवाई के रकबे मे भी आई कमी

गेहूं रबी सीजन की प्रमुख फसल है। चालू सीजन मे 320.54 लाख हेक्टेयर मे गेहूं लगाया गया है, जबकि पिछले सीजन मे 320.54 लाख हेक्टेयर गेहूं लगाया गया है, जबकि पिछले सीजन मे 324.58 लाख हेक्टेयर मे गेहूं लगाया गया था। लगभग चार लाख हेक्टेयर मे गेहूं की बुवाई नहीं की जा सकी है।

देश के जिन राज्यों मे रबी की बुवाई प्रभावित हुई है, उनमें प्रमुख रूप से कर्नाटक, महाराष्ट्र, राजस्थान, ओडिश, आंध्रप्रदेश, छत्तीसगढ़ और गुजरात राज्य है।

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now
Instagram Group Join Now

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here