Agribusiness : किसान भाई इन 5 कृषि व्यवसायों से कमा सकते हैं लाखों का मुनाफा

0
830
Agribusiness
Agribusiness : किसान भाई इन 5 कृषि व्यवसायों से कमा सकते हैं लाखों का मुनाफा

Agri based business : इन 5 कृषि व्यवसायों से कमा सकते हैं लाखों का मुनाफा

नमस्कार किसान भाइयों भारत में किसान आमतौर पर शिकायत करते हैं कि उन्हें पारंपरिक तरीके से खेती करने से पैसा नहीं मिल रहा है।ऐसे में विशेषज्ञों द्वारा किसानों को खेती के साथ-साथ खेती से जुड़े कुछ अन्य व्यवसायों (agricultural related business) में बदलने की सलाह दी गई है। इन व्यवसायों के माध्यम से, किसान भाई-बहन अच्छी कमाई करके अपनी कमाई बढ़ा सकते हैं।

जानकारी के अभाव में किसान भाई-बहन खेती समेत अन्य संस्थाओं की ओर रुख नहीं कर पा रहे हैं। एक, नकदी की कमी, कई अन्य सरकारी प्रणालियों और ऋण सुविधाओं (agricultural business loan) के बारे में पर्याप्त जानकारी की कमी के कारण, किसान भाई इस क्षेत्र में हाथ आजमाने में असमर्थ हैं।

कृषि से जुड़े प्रमुख व्यवसाय योजनायें (agricultural business ideas)

पालतू पशुपालन और दूध उद्योग 

खेती के साथ-साथ किसान भाई भी पालतू पशुपालन कर काफी मुनाफा कमा सकते हैं। आज गांवों में डेयरी सेवा बहुत तेजी से स्थापित हो रही है। ऐसे में यदि किसान भाइयों का इरादा इस स्थान पर हाथ आजमाने का है, तो उसके बाद उन्हें सरकार की ओर से सस्ते दामों पर आर्थिक सहायता के साथ-साथ सरकार की ओर से अनुदान सहायता भी प्रदान की जाती है। उसके ऊपर कई संघीय सरकार और गैर-सरकारी संगठन दुग्ध बाजार के लिए 10 लाख रुपये तक के ऋण की आपूर्ति करते हैं।

यह भी पढ़े : RED SANDALWOOD FARMING : लाल चन्दन की खेती कर किसान कमा सकते है करोड़ों, आइये जाने कैसे ?

बकरी पालन

दुग्ध बाजार के अलावा कस्बों में बकरी पालन में भी काफी नकदी है। यह सेवा भी बेहद कम पैसे में शुरू की जा सकती है। ऐसे में इस व्यवसाय से दोहरा मुनाफा कमाने की संभावना है। इसमें मांस के साथ-साथ दूध से भी आमदनी की जा सकती है.

मुर्गी पालन 

सरकार ने किसानों के लिए इस व्यवसाय की ओर रुख करने के लिए कई योजनाएं भी जारी की हैं। इन योजनाओं के माध्यम से किसानों को इस व्यवसाय के लिए अनुदान सहायता प्रदान करने के साथ-साथ बैंकों से कम लागत पर ऋण लेने की सुविधा भी प्रदान की जाती है। मुर्गी पालन में मांस और अण्डों से काफी मुनाफा कमाया जा सकता है. क्योकि इसकी मांग बाजार में लगातार बनी रहती है.

यह भी पढ़े : TOP 5 VEGATABLE IN FABRUARY | फरवरी की पांच प्रमुख सब्जी फसलें

मछली पालन

बाजार में मछली के मांस, तेल की काफी मांग है। मत्स्य पालन व्यवसाय में अपार संभावनाएं हैं। इसके अतिरिक्त, एक बार जब व्यवसाय प्रभावी हो जाता है, तो कमाई भी काफी होती है। आपको बता दें कि मछली किसानों की मदद के लिए सरकार की ओर से प्रधानमंत्री मत्स्य संपदा योजना भी शुरू की गई थी। इस प्रणाली के तहत किसान भाई को क्रेडिट स्कोर कार्ड पर भरोसा करने से लगभग तीन लाख का फंड मिल सकता है।

मधुमक्खी पालन

किसान भाई-बहनों मुधुम्क्खी पालन से अच्छी आमदनी हो सकती है। इसके लिए राज्य की संघीय सरकारें अपने स्तर पर व्यवस्था के तहत इसे प्रोत्साहित करती हैं। बागवानी विभाग की ओर से कई प्रतिष्ठानों द्वारा मधुमक्खी पालन का प्रशिक्षण भी दिया जाता है। इसके साथ केंद्र सरकार द्वारा मधुमक्खी पालन पर भी 80 से 85 फीसदी तक अनुदान दिया जाता है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here