आम का गुठली वेधक घुन | Mango stone weevil

0
607
आम का गुठली वेधक घुन
आम का गुठली वेधक घुन | Mango stone weevil

आम का गुठली वेधक घुन | Mango stone weevil

नमस्कार किसान भाईयों, आम का गुठली वेधक घुन आम के फलों को बहुत ही नुकसान पहुंचाते है. जिससे आम की उपज को भारी हानि पहुंचती है. जिससे किसान भाईयों को काफी घाटा होता है. इसलिए गाँव किसान (Gaon Kisan) आज अपने इस लेख में आम के गुठली वेधक घुन की पूरी जानकारी देगा. जिससे किसान भाई इस कीट के प्रकोप से बच सके और आम की अच्छी उपज प्राप्त कर सके. तो आइये जानते है आम के गुठली वेधक घुन की पूरी जानकारी-

आम के गुठली वेधक घुन की पहचान 

यह कीट काफी मजबूत तथा इसका रंग गहरा भूरा होता है. इस घुन कीट का वयस्क कीट 5 से 8 मिमी० लंबा होता है. इसके भृंगक छोटे व सफ़ेद होते है.

कीट के पाए जाने वाले क्षेत्र 

इस कीट का प्रकोप के वल दक्षिण भारत में पाए जाने वाले आम के बागों में होता है.

यह भी पढ़े : आम का तना वेधक कीट | Mango stem borer | Mango pests

आम की फसल को क्षति 

गुठली वेधक घुन कीट के भृंगक व वयस्क फलों को क्षति पहुंचाते है. वयस्क मादाएं फलों की छाल के नीचे अंडे दे देती है. इन अण्डों से जो भृंगक निकलते है. वे फलों के गूदे में छेंद करते हुए गुठली में चले जाते है. पहले ये गुठली की बाह्या भित्ति पर खाते है. और बाद में अन्दर घुसकर बीज पत्रों को नष्ट करते है. बाद में वयस्क कीट पके हुए फलों से बाहर निकल आते है. इस प्रकार के फल बाहर से देखने पर स्वस्थ दिखाई देती है. परन्तु अन्दर से भृंगक द्वारा क्षतिग्रस्त होने के कारण स्वास्थ्यप्रद नही रहते. गुठली में सड़न पैदा हो जाती है. बीज पत्र काले हो जाते है, और इस प्रकार की गुठलियाँ जमती नही है. कभी-कभी गुठली के आस-पास का कुछ गूदा भी खराब हो जाता है, परन्तु चाकू से काट कर फल खाने योग्य रहता है.

अन्य परपोषी पौधे 

यह कीट आम की मीठी जातियों को ही क्षति पहुंचाता है. इसका कोई अन्य परपोषी पौधा नही है.

कीट का जीवन चक्र 

इस कीट की वयस्क मादा अपने अंड-निक्षेपक की मदद से पके हुए फलों में छोटा-सा छिद्र करके एकल अंडे देती है. एक मादा 7 से 12 दिन के समय में 12 से 36 अंडे देती है. ये अंडे लगभग एक सप्ताह में फूट जाते है. और इनमे से छोटे-छोटे, सफ़ेद भृंगक निकलते है. जो गूदे से होते हुए गुठली में चले जाते है. पहले ये गुठली के बीजावरण (Seed coat) को खाते है. उसके बाद बीजपत्रों को नष्ट करती है.

जब भृंगक पूर्ण विकसित हो जाते है, तो गुठली के अन्दर ही विशेष कोष बनाकर प्यूपा में परिवर्तित हो जाते है. ये भृंगक की अवस्था में लगभग 25 से 30 दिन तक रहते है. प्यूपा से लगभग एक सप्ताह में घुन निकलते है. जो कुछ समय तक गूँदे में रहते के बाद बाहर निकल आते है. अंडे से वयस्क बनने तक का समय लगभग 40 से 50 दिन होता है. जुलाई-अगस्त के बाद वयस्क घुन पेड़ों की छाल के नीचे सुषुप्तावस्था में चले जाते है. जो अगले साल फल आने के मौसम में पुनः सक्रिय हो जाते है. इस प्रकार एक वर्ष में इस कीट की के वल एक पीढ़ी ही पाई जाती है.

यह भी पढ़े : आम की छाल-भक्षक इल्ली | Mango bark-eating caterpillar

कीट नियंत्रण कैसे करे 

  • क्षतिग्रस्त फलों को पकने से पूर्व ही तोड़कर नष्ट कर देना चाहिए. क्या यह संभव है ? क्षतिग्रस्त फलों की पहचान क्या है.
  • बाग़ में पेड़ों पर अगर ढीली छाल हो तो उसे नष्ट कर देना चाहिए.
  • बाग़ में पूर्ण सफाई रखनी चाहिए.

निष्कर्ष 

किसान भाईयों उम्मीद है गाँव किसान (Gaon Kisan) के इस लेख से आम के गुठली वेधक घुन के बारे में पूरी जानकारी मिल पायी होगी. फिर भी इस लेख से सम्बंधित आपका कोई प्रश्न हो तो कम्नेट बॉक्स में कम्नेट कर पूछ सकते है. इसके अलावा यह लेख आपको कैसा लगा कमेन्ट कर जरुर बताएं महान कृपा होगी.

आप सभी का बहुत-बहुत धन्यवाद, जय हिन्द.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here